Wednesday, June 7, 2017

What Is Root?? Advantages And Disadvantages - Full Explained - In Hindi


दोस्तों आज में आपसे बात करूंगा Root के बारे में। दोस्तों आपने शायद Root शब्द के बारे में सुना होगा। आपने देखा भी होगा Google Play Store के कुछ Apps है जो Root करने में इस्तेमाल होते है। लेकिन Root क्या है?? अपने फोन को Root क्यों करेंगे?? इसके नुकसान और फायदे क्या है?? और अगर हमें Root करना है तो हम किस बात का ध्यान रखना चाहिए?? आज इन्हीं सवालों का जवाब आपको यहा मिलेगा। तो चलिए शुरू करते हैं।
Root क्या होता है??
दोस्तों जब आपना नया स्मार्ट फोन खरीदने तो मोबाइल कंपनी हमें उसमें पहले से ऑपरेटिंग सिस्टम इंस्टॉल करके देती है। इससे हम वही चीजें या एप्स का इस्तेमाल कर सकते हैं। जो कंपनी ने ऑपरेटिंग सिस्टम के अंदर एक्सेस किया है। लेकिन अगर आपने फोन को Root कर लिया तो आप एक सुपर यूजर बन सकते हैं जिससे यह होगा कि कंपनी ने हमें एक्सेस नहीं दे रखा। वही काम भी हम फोन को Root करके कर सकते हैं और इससे अपने फोन की ताकत और Performance में बहुत अच्छी बना सकते हैं।

दोस्तों हम अपने स्मार्टफोन को अगर  Root किया तो हम उसके अंदर एक Custom ROM भी इस्तेमाल कर सकते हैं। जिससे हम अपने फोन की कमांड को बदल सकते हैं। इसका मतलब यह हो गया कि जब हम अपने फोन को  Root करेंगे। तो हम अपने फोन को अपने तरह से कंट्रोल में ला सकते हैं। जैसे - Home बटन की जगह हम कैमरे को यूज़ करने के लिए कर सकते हैं। और जो वॉल्यूम बटन पर भी हम Custom करके अपनी तरह से कंट्रोल कर सकते हैं।

इसे Root क्यों कहा गया है??
यह शब्द यूनिक्स और लाइनेक्स का चलाया गया है लिनक्स और यूनिक्स कंप्यूटर में इस्तेमाल किए जाने वाले ऑपरेटिंग सिस्टम होते है। इससे यूजर्स को अपने कंप्यूटर के सभी प्रोग्राम और फाइल्स में बदलाव लाने का अधिकार दिया जाता है। यह सिस्टम Android में भी होता है। जब हमने अपना फोन Root कर लिया तो हम अपने फोन के फाइल फोल्डर सॉफ्टवेयर और यूज़र इंटरफेस के कोड में भी बदलाव कर सकते हैं।

आप जानते हागे कि जब हम फोन लेकर आते हैं, तो मोबाइल कंपनी हमें कई चीजें डाल कर देती है। उसके अंदर हमें कुछ चीजें ऐसी मिलती है। जिससे हमें उनसे कोई लेना देना नहीं होता लेकिन फिर भी हम चाहकर भी उन Apps को Uninstall नहीं कर पाते। लेकिन जब हम अपने फोन को Root करेंगे तो हम उन Apps को डिसेबल ही नहीं बल्कि हम इसे Remove भी कर सकते हैं।

मोबाईल को Root करने के क्या फायदे है??
दोस्तों अगर हम अपने फोन को सिर्फ Normal तरह से यूज लेते हैं जैसे हमने कॉल करने के लिए, मैसेज करने के लिए, या Normal कभी हमने कोई Social Networking Site पर Online रहना है। इन्हीं का इस्तेमाल करते हैं तो हमें Root करने का कोई फायदा नहीं है।

लेकिन हम अगर अपने फोन के साथ बहुत कुछ करना चाहते हैं। हम मोबाईल टेक्नोलॉजी के बारे में जानते हैं। और फोन के अंदर अपना पूरा तरह से कंट्रोल चाहते हैं। तो हम अपने फोन को Root करने का बहुत फायदा मिल सकता है।

जैसे:-
1. जब हम न्यू फोन लेकर होते हैं। तब हमारे फोन के अंदर एक डिफ़ॉल्ट थीम होती है उसमे हम उन्हीं थीम का इस्तेमाल कर सकते हैं जो फोन मे कंपनी की द्वारा दी गई है। लेकिन जब हमने फोन को Root कर लिया तो हम अपने फोन की थीम वॉलपेपर और अन्य कोई भी फीचर का बैकग्राउंड बदलना हो ऐसा काम Root होने के बाद अपने फोन का लुक बदल सकते हैं।

2.  हम Root करने मे हम अपने फोन का Performance को बेहतर बना सकते हैं। कई डेवलपर्स और कर्नल लेयर Code में बदलाव कर फोन के Performance और Battery Performance को भी बेहतर कर देते है।

3. दोस्तों बेसबैंड का उपयोग आम तौर पर फोन के रेडियो सिग्नल को कंट्रोल करने के लिए किया जाता है। अगर हमने फोन को Root किया तो हमें इस सिग्नल को अपडेट कर के बेहतर बना सकते हैं।

4. दोस्तों अगर आपका फोन पुराना हो गया है और कंपनी ने हमें नया एंड्रॉयड v भी नहीं दिया है। हम अगर इस टेक्नोलॉजी के बारे में जानते हैं तो हम पुराने फोन के अंदर भी नए फीचर का उपयोग कर सकते है।

5. दोस्तों हम इंटरनेट के समय आने वाले ADD को अपने Root फोन में पूरी तरह से हम बंद कर सकते हैं। और आज-कल वैसे भी कुछ Android Apps आ गए हैं जिससे बिना Root किए ADD ब्लॉक कर देते हैं।

6. दोस्तों हम Root करके फोन के अंदर एडिशनल सिक्योरिटी का लेवल बढ़ा सकते हैं इंटरनेट पर बहुत Apps है जो Root फोन के साथ काम करते हैं

Root करते समय क्या - क्या ध्यान रखना चाहिये? नही तो क्या क्या नकसान हो सकते है??
दोस्तों जब हम फोन को Root करेंगे तो हमारे फोन की वारंटी खत्म हो जाती है और यह बड़ी कंपनी करती है जैसे - Samsung, Sony, Oppo, Motorola, और भी बहुत कुछ कंपनी है जो हम Root करने के बाद अपने फोन के अंदर जो खराबी होती है तो वह साथ नहीं देती। और कुछ कंपनी है जो Root करने के बाद भी हमारे फोन के साथ होती है। जैसे- Intex, OnePlus, और भी बहुत सी कंपनी है जो हमारा फोन को Root करने के बाद भी साथ देते हैं।

Root के दौरान थोड़ी भी गड़बड़ी होती है। यह मान लीजिए। आपने कोई स्टेप भूल गए हैं तो आपका फोन पूरी तरह बेकार हो सकता है और उसमें हम फिर कुछ नहीं कर सकते।

Root कर के फोन के अंदर कहीं एडिशनल सिक्योरिटी Apps है जो इंस्टॉल करने पर हमारे फोन को भारी नुकसान पहुंचा सकते हैं।

इस Post के बारे मे कुछ शब्द !!
दोस्तों उम्मीद करता हूं कि आपको Root के बारे में पता चल गया होगा और आप समज गये होगे कि यह कितना नुकसान दे सकता है। और कितना फायदा कर सकता है। तो दोस्तों अगर आपको यह पोस्ट पसंद आई तो आप अपने दोस्तों के साथ Social Media पर जरूर Share करें। अगर आपको कुछ पुछना है तो आप Comment मे बता सकते है। मैं आपको ऐसे ही नहीं पोस्ट लेकर आता रहूंगा हमें फेसबुक पर लाइक करें और Twitter पर हमें फॉलो करना ना भूलें। 
Previous Post
Next Post

About Author

Hi,
Welcome to MrTechIndian.I am Mohit Jangir, Professional Blog Writer From Nohar. Here at MrTechIndian I write About Technical Explained,Start A Blog News,Review,Blogging And SEO.

0 comments: